माँ काली को बुलाने का 08 शक्तिशाली मंत्र अर्थ, लाभ – Kaali Mantra Hindi

माँ काली का मंत्र जाप करने से मनुष्य के जीवन आने वाले सभी कष्ट और सकंट शीघ्र दूर हो जाते है। माँ काली सृष्टि की माता है। यदि आप मंत्र जाप क्रिया से माता को बुलाना चाहते है तो आज हम इस लेख में माता के मंत्र बारे में जानकारी देने जा रहे है निचे दिए गए मंत्र का जप करे। ज्योतिषियों के अनुसार माँ काली मंत्र दिए गए है

काली माता का चेहरा हमेशा क्रोधित दिखाया गया है क्योकि शस्त्रुओ को नाश करने वाली माता कहा गया है आप यदि Kaali Mantra Hindi जाप क्रिया से माता को बुलाना चाहते है तो आपके मन में माता के प्रति अटूट विश्वास होना चाहिए। काली माता आपका कल्याण और मनोकामनाएं पूरी करेगी। माँ काली एक दुर्गा माता का ही रूप है जिन्हें महाकाली के रूप में जाना जाता है दुर्गा के सभी रूपों में यह रूप बहुत शक्तिशाली रूप में आता है।

1. माँ काली बीज मंत्र:

क्रीं काली 

इस मंत्र का सही अर्थ : सम्पूर्ण ज्ञान प्रदान करना। कष्टों और विपदाओं को हरनेवाली हो।

लाभ: काली माता का यह मंत्र जाप सभी नकारात्मक शक्ति और ऊर्जा को ख़त्म करने में लाभकारी है।

2. देवी काली मंत्र:

Mantra

”ॐ क्रीं कालिकायै नमः

इस मंत्र का अर्थ है इस Kaali Mantra Hindi का उपयोग काली के प्रतिनिधित्व के लिए किया जाता है।

लाभ : काली माता का यह मंत्र भक्त के मन को शुद्ध कर देता है।

क्रीं बीज मंत्र के चमत्कारिक लाभ और सही उच्चारण

3.महा काली मंत्र (Maha Kali mantra)

”ॐ श्री महा कलिकायै नमः

अर्थ: माँ काली को प्रणाम करते हुए सर झुकता हूँ  माता का आशीर्वाद लेता हूँ।

लाभ: इस मंत्र जाप से में माता की कृपा पाने के लिए जाप करता है जीवन में खुश रहने के लिए माता का आशीर्वाद लेता हूँ। जीवन में सफलता पाने के लिए हमेशा इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

4.  काली माता मंत्र कालिका

”ॐ कलिं कालिका-य़ेइ नमः”

लाभ: यह काली माँ का मंत्र जाप करने से सभी प्रकार की समस्यों छुटकारा मिलता है। इस मंत्र जप से जीवन में आ रही परेशानिओ को हल करने के लिए नियमित रूप से मंत्र का समरण करना चाहिए।  

5.  काली गायत्री मंत्र (Kali Gayatri Mantra)

   काली गायत्री मंत्र है:

|| कालिकायै विद्महे, श्मशानवासिन्यै धीमहि, तन्नो काली प्रचोदयात् ||

अर्थ: ओ महान काली देवी, मां काली, जो जीवन के महासागर में और दुनिया को भंग करने वाले श्मशान घाट में निवास करने वाली, हम अपनी ऊर्जा आप पर केंद्रित करते हैं, आप हमें आशीर्वाद दो।’

लाभ:  यदि आप अपने करियर में जल्दी सफलता पाना चाहते है तो आपको नियमित रूप से काली गायत्री मंत्र जाप करना चाहिए। यह मंत्र पढ़ने वाले बच्चो के लिए बहुत उपयोगी है। इस मंत्र जाप से जातक को एक नई ऊर्जा और शक्ति मिलती है

6.  काली माँ की स्तुति के लिए मंत्र:

”कृन्ग कृन्ग कृन्ग हिन्ग कृन्ग दक्षिणे कलिके कृन्ग कृन्ग कृन्ग हरिनग हरिनग हुन्ग हुन्ग स्वा:”

अर्थ:  इस kali mata mantra में 3 beej होते है, क्रिम, हम और ह्रीं, और नाम ‘दक्षिणा कलिके’ और ‘स्वाहा’, जिसका मतलब है भेंट।

लाभ: हमें हमारी अज्ञानता और मृत्यु के भय को दूर करती हैं।

7.  दक्षिणा काली ध्यान मंत्र (Dakshina Kali Dhyan Mantra)

|| ॐ ह्रीं ह्रीं ह्रुं ह्रुं क्रीं क्रीं क्रीं दक्षिणकालिके क्रीं क्रीं क्रीं ह्रुं ह्रुं ह्रीं ह्रीं ||

अर्थ: पृथ्वी पर पाप का नाश करने वाली और मनुष्य के हर तरह के संकटों से बचाने वाली देवी माँ को नमन।

8. सरल काली मंत्र:

 Mantra: ॐ श्री महा कालिकायै नमः

लाभ:  यह देवी माँ का सबसे आसान मंत्र है इस मंत्र का जाप नियमित तरीकों से करना चाहिए। यह मंत्र जाप करने से माता प्रसन्न होते है।

काली मंत्र जाप के संपूर्ण फायदे (Overall benefits of chanting the Kali mantras in hindi)

ज्योतिष के अनुसार देवी काली माँ के मंत्र सबसे शक्तिशाली है कोई समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए देवी माँ के मंत्र जाप कर सकते है। देवी माँ के मंत्र अलग अलग  परिस्थियों के लिए अलग अलग मंत्र है। 

देवी काली माँ के मंत्र जाप करने से मनुष्य आंतरिक चेतना जागृत होती है

यदि आपको अपने परिवार में अच्छे रिश्ते ( एकता से परिपूर्ण ) बनाये रखने के लिए देवी माँ के मंत्र आपकी मदद करते है।

काली माता की मूर्ति घर में स्थापित कर और नियमित रूप से भक्तिभाव के साथ रोजाना काली माता के मंत्र जाप करते है और काली माता की पूजा करते है तो देवी माँ आपके कष्टों का निवारण कर देगी और घर में सुख समृद्धि बनी रहेगी।

काली माँ के मंत्र प्रतिदिन जाप करने से खतरनाक आपदाओं से बचाता है

नियमित रूप से काली माँ के मंत्र से शक्ति मिलती है और आपने वाली परेशानिओ को पहले से ही निपटा सकते है।

काली माता के मंत्र जाप से शिक्षा में आपका भविष्य उज्वल होगा। और आपको अच्छी मुकाम हासिल होगी।

इस मंत्र जाप के जातक को आर्थिक स्थिति मजबूत और ऋणों से छुटकारा दिलाता है।

यह मंत्र आपको सफलता पाने में मदद करते है और जीवन में खुशियाँ , प्रगति प्रदान करता है।

यह मंत्र आपके जीवन और परिवार से जुडी समस्याओं को हल करने में मदद करता है

काली मंत्र का जाप प्रेम से सम्बंधित समस्याओं को निवारण करने में आपकी सहायता करता है।

यदि आप अपने जीवन में एक अच्छे जीवनसाथी की तलाश कर रहे तो यह मंत्र आपकी मदद करेंगे।

काली मंत्र जाप से आपको कोई हाय लगने मदद करता है और आपको किसी की हाय से छुटकारा मिलेगा। और बुरी नज़र से भी बचाएगा।

नर्मदेश्वर शिवलिंग क्या है ? जानिए पूजा करने के लाभ एवं शिवलिंग पहचान

मां दुर्गा के 09 रूप

मां कामाख्या बीज मंत्र एवं कामाख्या देवी के परिचय, विधि और टोटके

माँ दुर्गा माता की नौ रूपों में पूजा की जाती है। आज हम इस लेख में माता के 9 रूपों के बारे में बताने जा रहे है माँ दुर्गा की पूजा शिवरात्रि पर विशेष रूप और धूमधाम से पूजा की जाती है। शिवरात्रि के दिन माता दुर्गा के इन रूपों की पूजा अर्चना का आयोजन हर शिवरात्रि पर होता है।

शैलपुत्री – Shailputri

शैलपुत्री माँ दुर्गा का पहला रूप है जिसका मतलब होता है हिमालय क्योकि शैलपुत्री का जन्म हिमालय में हुआ इसलिए शैलपुत्री कहा जाता है शैलपुत्री का साधन बेल है

ब्रह्मचारिणी – Brahmacharini

9 नवरात्र में जिस रूप को दूसरे दिन पूजा की जाता है वह रूप ब्रह्मचारिणी रूप होता है माँ के हाथ माला और बाये हाथ में कमल मंडल है।

चंद्रघंटा – Chandraghanta

माँ चंद्रघंटा की पूजा नवरात्र के तीसरे दिन होती है मां चंद्रघंटा के दश हाथ हैं

कुष्मांडा – Kushmanda

कुष्मांडा माँ के रूप की पूजा नवरात्र के चौथे दिन की जाती है माता कुष्मांडा की 8  भुजाएं हैं और वह हमेशा शेर पर सवार रहती है

स्कंदमाता – Skandmata

स्कंदमाता माता की चार भुजाये है और इस माता की पूजा नवरात्री के पांचवे दिन की जाती है।

कात्यायनी – Katyayani

मां कात्यायनी की चार भुजाएं हैं कात्यायनी माँ की पूजा आराधना नवरात्री के छठे दिन की जाती है। 

कालरात्रि – Kalratri

कालरात्रि माता का रूप काला है और तीन नेत्र और चार भुजाएँ है। इस माता की पूजा आराधना नवरात्री के सातवे दिन की जाती है।

महागौरी – Mahagauri

महागौरी माता के रूप की नवरात्री के आठवे दिन की जाती है इनकी चार भुजाएँ है और वाहन बेल है

सिद्धिदात्री – Siddhidatri

नवरात्री के अंतिम दिन जिसकी पूजा की जाती है वह देवी सिद्धिदात्री है नवरात्रे के नवे दिन पूजा अर्चना का आयोजन किया जाता है। इस माता का आशान कमल का फूल और चार भुजाएँ है

कामपिशाची वशीकरण मंत्र ( Kamapisachi Vashikaran Mantra ) हिंदी में

लेख के अंतिम महत्वपूर्ण जानकारी

आज हमने आपको माँ काली के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी है Maa kali mantra in hindi के उपयोग करने से पहले कुछ बातो का ध्यान रखे। इस मंत्र की क्रिया को करने से पहले गुरु का मार्गदर्शन ही करें। क्योकि माता काली साधना जटिल और कठोर है इसलिए यह मंत्र जाप और साधना के बारे में और जानकारी जुटाए और गुरु से सम्पर्क करे। क्योकि काली माता की साधना एक तांत्रिक क्रिया है

× Whatsapp