शमी के पेड़ के चमत्कारी टोटके | शमी पूजन मंत्र | शमी वृक्ष पत्र चढ़ाने का मंत्र

shami ke ped ke totke : आज हम इस लेख में हम आपको शमी के पेड़ के टोटके के बारे में बतायेगे। आप ने कभी शमी के पड़े के बारे में पढ़ा या देखा होगा और शमी पेड़ क्या है ? शमी के पेड़ को इतना महत्व क्यों दिया गया है। शमी का पेड़ किस काम आता है। इस शमी के पेड़ को एक धार्मिक रूप में क्यों माना जाता है। 

हमारे महाभारत और रामायण में शमी के पौधे के बारे में जिक्र किया गया है जैसे पीपल के पेड़ को हिन्दू धर्म में धार्मिक पेड़ के रूप में माना जाता है और इसकी पूजा की जाती है वैसे ही शमी का पौधा धार्मिक रूप में बहुत ज्यादा प्रचलित माना जाता है।

शमी के पेड़ की लकड़ी या छाल को धार्मिक कार्यो में उपयोग किया है और घर में जब कोई हवन या पूजा की जाती है तब इसकी लकड़ी को उपयोग किया जाता है शमी के पेड़ की लकड़ी को हवन में बहुत शुभ माना जाता है। हिन्दू धर्म के शास्त्रों के अनुसार शमी के पेड़ की लकड़ी का हवन करने से शनि दोष दूर होते है।

आज हम आपको शमी के पेड़ के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे है शमी का पेड़ क्यों लगाना चाहिए और शमी के पेड़ के टोटके और मंत्र के बारे में निचे वर्णन किया गया है

शमी के पेड़ और पत्ते के टोटके

यदि आप पर साढ़े सती चल रही है और आपके ऊपर शनि का प्रभाव है और आप इस कारण से बहुत सी परेशानिओं का सामना कर रहे है तो आप शमी के पौधे से इसका उपाय कर सकते है यदि आप शनिवार के दिन शनि देव के मंदिर में पूजा के साथ शमी के पेड़ के पत्ते अर्पण करते है तो आपके ऊपर शनि का प्रभाव कम  होगा और आपकी हर समस्या का निवारण होगा।

आप नियमित रूप से शमी के पेड़ की पूजा करते है तो आपके ऊपर शनि दोष दूर होगा। शमी का पेड़ आप घर पर भी लगा सकते है। शमी का पौधा घर पर लगाने के लिए उत्तर-पूर्व दिशा अच्छी होती है।

आपको नौकरी , शिक्षा और बिज़नेस से संबंधित परेशानिओं का सामना करना पड रहा है तो आप बुधवार के दिन गणेश जी को शमी के पेड़ के पते और प्रसाद चढ़ा सकते है इससे आपको बहुत लाभ होगा।

सोमवार के दिन सुबह भगवान शिव के मंदिर में शिवलिंग पर शमी के पते अर्पित करने से सभी ग्रहो के दोष दूर होते है।

राम नाम और मंत्र जाप करने के चमत्कार और प्रभाव – राम नाम के टोटके

शमी पूजन मंत्र

शमी के पेड़ की पूजन करते समय आप मंत्र जाप भी कर सकते है इसके लिए आपको निचे मंत्र दिया गया है शमी के पेड़ के पते अर्पित करते समय भी आप इस मंत्र का जाप कर सकते है इस मंत्र का जाप करने से आप ऊपर शनि दोष से निवारण मिलता है। शमी का मंत्र पेरशानिओ को दूर करने के लिए बहुत फायदेमद है।

                 अमंगलानां शमनीं शमनीं दुष्कृतस्य दु:स्वप्रनाशिनीं धन्यां प्रपद्येहं शमीं शुभाम्

पते और फूल किस भगवान को अर्पित किये जाते है

शमी के पौधे के पते और फूल भगवान शिव और गणेश जी को अर्पित किये जाते है शमी के पेड़ के पते भगवान शिव को अर्पित करने से शिव भगवान बहुत खुश होते है।  शनि दोष दूर करने के लिए शमी के पते और फूल शनि देव को भी अर्पित किये जाते है। भगवान शिव , गणेश जी और शनि देव को शमी के पते चढ़ावे के रूप में चढ़ाये जाते है।

शमी का पौधा किस दिन और किस दिशा में लगाना चाहिए

यह शमी के पौधे को लगाने के लिए शनिवार का दिन शुभ माना गया है। इस अलावा आप कोई भी शुभ दिन देख कर शमी के पौधे का पौधा रोपण कर सकते है। विजयदशमी के दिन भी आप शमी के पौधे को लगा सकते है। शमी के पौधे को लगाने के लिए दिन के साथ आपको अपने घर में पौधा रखने की दिशा का भी ध्यान रखना पड़ेगा। अपने घर में पौधा रखने के लिए उत्तर-पूर्व दिशा बहुत शुभ मानी जाती है। शमी के पौधे को लगने लिए अपने घर में गमले का भी इस्तेमाल कर सकते है।

मनचाहा महिला या पुरुष पर वशीकरण (Vashikaran) के लिए आसान शाबर मंत्र (Shabar Mantra)और निवारण

यह शमी का पौधा कहाँ मिलता है?

यदि आपको शमी का पौधा घर पर लगाने के लिए चाहिए तो आपको यह पौधा आपको आपके आसपास नर्सरी में मिल जायेगा और इस पौधे लेने के लिए ज्यादा पैसे  भी नहीं लगेंगे।

शमी के पेड़ के कितने नाम होते है?

शमी के पौधे को अलग अलग राज्यों में अलग अलग नाम से पुकारते  है। छोंकरा (उत्तर प्रदेश), जंड (पंजाबी), कांडी (सिंध), वण्णि (तमिल), शमी, सुमरी (गुजराती) आते हैं।

Source: Astro Tak

निष्कर्ष

आज हमने इस पुरे लेख में आपको शमी के पेड़ के टोटके और मंत्र के बारे में बताया है यदि आपको इसकी और जानकारी चाहिए तो आप सम्पर्क कर सकते है और यदि आप किसी कारण वस् अपने जीवन में परेशानी के दौर से गुजर रहे है तो आप ज्योति सुरेश कुमार शास्त्री जी सम्पर्क कर सकते है।

× Whatsapp